Home Crime अनाज क्रय केंद्रों में भ्रष्टाचार की मार झेल रहे किसान

अनाज क्रय केंद्रों में भ्रष्टाचार की मार झेल रहे किसान

33
0
SHARE
अनाज क्रय केंद्रों में भ्रष्टाचार की मार झेल रहे किसान
घाटमपुर ।  भीतरगांव ब्लॉक के पालहेपुर ग्राम में जिला मंत्री मीरा सिंह भदोरिया मंडल अध्यक्ष कमलेश पांडेय सेक्टर अध्यक्ष सूरज सिंह ने चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं सुन रहे थे एवं जिला मंत्री मीरा सिंह भदोरिया संबंधित अधिकारियों से बात करके उन्हें फोन से समझाया कि सही नियत से काम करो जब सरकार योजना  दे रही है  तो आप  क्यों नहीं पहुंचाते हो सर्वे क्यों नहीं करते हो उसी वक्त कई ग्रामीणों ने उनसे आग्रह करते हुए कहा कि हमारा अनाज 20 दिनों से सोसाइटी में पड़ा है हमारा गेहूं नहीं खरीदा जा रहा है तभी सभी लोग सोसाइटी में पहुंचे तो सचिव नहीं मिला सहायक मिला वह बोला कि सरकार बोरी नहीं दे रही है
उसी वक्त सूत्रों से जानकारी मिली कि अभी अभी चार ट्रैक्टर सरकारी मारका की बोरी लाते हुए आ रहे हैं सोसाइटी की तरफ और उसी वक्त ट्रक में लोडिंग हो रही थी जिसमें की एक ट्रैक्टर मौके पर पकड़ा गया जो कि राजेश  लक्ष्मीनारायण नर्वल का था वह ऊपर से सीमेंट की पल्ली से छुपा रखी थी जब पूछा गया तो जवाब नहीं दे पाया वहीं पर बहुत से किसान महीनों से दिन रात वहीं पर ही पडे रहते हैं कि कब बोरियां हैं और कब मेरे गेहूं चले जाएं लेकिन बोरी तो आती हैं वह पहले से बाहर ही बुक हो जाती हैं और किसान का नंबर ही नही आता है और व्यापारियों का अनाज जाता है दूसरे लोगों के खतौनी से चला जाता है सचिव के माध्यम से बताया जा रहा है कि बांदा तक के गेहूं सेमरझाल की सोसाइटी में डाले गए हैं ।
सचिव ने ब्लैक बोर्ड में पहले ही लिख रखा है की आंधी आए या तूफान हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं है आपका गेहूं सडे या गले लेकिन गरीब किसान फिर भी उम्मीद  लगाएं पड़ा रहता है कि शायद  अब उसकी बारी आ जाए ताकि दो पैसे मिल जाए अगर बारिश हो गई तो पूरे वर्ष की कमाई उसकी चली जाएगी कुछ लोगों ने बताया कि यहां पर तो पूरा ट्रक ट्रक बाहरी भर जाता है और चला जाता है किसानों को मालूम ही नहीं पड़ता कि कब  आया और कब चला गया ।

 ​सप्लाई इस्पेक्टर और कोटेदार की मिली भगत से नही बटा एक माह का मट्टी का तेल​

घाटमपुर ।  भीतरगांव ब्लाक के ग्राम उमरी फैजुल्लापुर  में मई माह का मट्टी का तेल वितरण नही किया गया ग्राम उमरी के निवासियों के द्वारा कोटेदार से पूंछा गया कि मिट्टी का तेल का कब वितरण होगा तो बताया कि एजेंसी से अभी तक तेल की उठान नही हुई लिहाजा किसी भी कार्ड धारक को तेल नही दिया जायेगा जानकारी के अनुसार जबकि एजेंसी से तेल की उठान हो चुकी है सप्लाई इस्पेक्टर से बात हुई तो टाल मटोल कर फोन रख दिया गया कोटेदार का कहना है जिससे  जिसको जो भी जहां जिससे शिकायत करने हो तो करो कोई अधिकारी यहां आके बटवाने नही आयगा जिससे ग्रामवासी उमरी निवासी कोटेदर से नाराज उमरी से धीरेन्द्र सिंह गोविंन्द चौधरी के द्वारा  उपजिलाधिकारी नर्वल को लिखित शिकायत पत्र दिया गया । एसडीएम ने जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का आश्वासन ग्रामीणों को दिया है ।