Home Crime अधिवक्ता समेत महिला मित्र पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

अधिवक्ता समेत महिला मित्र पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

अधिवक्ता समेत महिला मित्र पर
घाटमपुर । स्थानीय कचहरी के एक अधिवक्ता व उसकी महिला मित्र के खिलाफ शनिवार रात कोतवाली में धोखाधड़ी का मुकदमा पंजीकृत किया गया है। आरोप है कि अधिवक्ता ने दुष्कर्म पीड़िता से महिला मित्र को 20 हजार रुपये उधार देने का अनुरोध किया और बैंक ले जाकर खाते से 1.20 लाख रुपये ट्रांसफर कराने का प्रयास किया। उधर अधिवक्ता की महिला मित्र ने दुष्कर्म पीड़िता पर परिजन की जमानत के नाम पर 1.20 लाख रुपये उधार लेने और अदा करने में आनाकानी का आरोप लगाया है।
बताते चलें कि भीतरगांव क्षेत्र के गांव निवासी दुष्कर्म पीड़ित युवती को समाज कल्याण विभाग से तीन लाख रुपये मिले हैं। आरोप है कि रुपये मिलने की जानकारी के बाद अधिवक्ता राजेंद्र धमाका 4 अप्रैल 2018 को घर गये थे और साथ में मौजूद क्षेत्र के गांव मोहनपुर निवासी प्रतिमा पत्नी जगतपाल को 20 हजार रुपये की जरूरत जता उधार देने का अनुरोध किया। अधिवक्ता के अनुरोध पर वह 20 हजार रुपये देने को तैयार हो गई और 9 अप्रैल को अधिवक्ता राजेंद्र धमाका के साथ भीतरगांव स्थित बैंक आफ बड़ौदा गई थी।
राजेंद्र ने ट्रांसफर वाउचर में 20 हजार रुपये भरकर उसके दस्तखत कराए और बैंक में देने से पहले कूट रचना कर 1.20 लाख रुपये कर जमा कर दिये। ट्रांसफर वाउचर में खाता संख्या गलत भरे जाने के चलते 1.20 लाख रुपये गलत खाते में ट्रांसफर हो गये और 21 दिन बाद धनराशि खाते में वापस आने पर उसे जानकारी हो सकी। पीड़ित युवती के मुताबिक इसके बाद से अधिवक्ता व प्रतिमा पत्नी जगपाल आए दिन उसे झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रही हैं।
उधर, आरोपित प्रतिमा ने भी पुलिस को शिकायती पत्र देकर दुष्कर्म पीड़ित युवती व उसके परिजनों द्वारा जेल में निरुद्ध परिजन की जमानत के लिए अधिवक्ता राजेंद्र धमाका की मौजूदगी में 1.20 लाख रुपये उधार लेने और अदा करने में आनाकानी का आरोप लगाया है। प्रभारी निरीक्षक दिलीप कुमार बिंद ने बताया कि युवती की तहरीर पर राजेंद्र धमाका व मोहनपुर निवासी प्रतिमा पत्नी जगपाल के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा पंजीकृत किया गया है। जांच कराकर तथ्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।