Home Crime रेप के आरोपी ने ही किया नाबालिक लड़की का अपहरण

रेप के आरोपी ने ही किया नाबालिक लड़की का अपहरण

ब्यूरो प्रदीप गुप्ता

श्रावस्ती। यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार भले ही महिलाओ की सुरक्षा को लेकर बेहतर कानून व्यवस्था स्थापित करने की बात कर रही है। किंतु इन महिलाओं की सुरक्षा का दायित्व संभालने वाली हमारी मित्र पुलिस की कार्यशैली पर आये दिन समाज के लोग सवाल खड़े कर रहे है। ताज़ा मामला यूपी के श्रावस्ती जिले के थाना मल्हीपुर के ग्राम पंचायत चौरिकोटिया का है, जहां पर एक 30 वर्षीय युवक द्वारा नाबालिग युवती को भगा ले जाने का मामला सामने आया है।गाँव के ग्रामीणों ने पुलिसिया कार्यवाही पर सवाल उठाए है।दरअसल चौरिकोटिया गाँव के निवासी बच्छन पुत्र तसौवर ने 22 जून 2018 को श्रावस्ती पुलिस अधीक्षक को दिए प्रार्थना पत्र में गाँव के निवासी उस्मान पुत्र अब्बास द्वारा अपनी नाबालिग लड़की से जबरदस्ती बलात्कार करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करने की गुहार लगाई थी, लेकिन पीड़ित पिता के अनुसार युवक उस्मान द्वारा उसकी बच्ची के साथ किये गए जघन्य अपराध का मामला दर्ज भी नही था। और 28 जून की रात 11:45 पर उस्मान अपने चार साथियो के साथ पीड़ित के घर पर पहुँचकर पीड़ित की बच्ची का जबरन अपहरण कर लिया है। मामला बढ़ता देख 29 जून को आनन-फानन में मल्हीपुर पुलिस ने तहरीर लिखवाकर मामला दर्ज किया।इस मामले से आक्रोशित सैकड़ो ग्रामीणों ने पुलिस पर शिथिलता का आरोप लगाते हुए आज आरोपी युवक के घरवालों को लाकर खातिरदारी करते हुए बन्दी बना लिया,इसकी सूचना मिलने पर पुलिस के हाथ पैर फूल गए।आनन फानन में मौके पर अपने दल बल के साथ पहुचे थाना प्रभारी वकील पांडेय ने आक्रोशित ग्रामीणों को समझा बुझाकर आरोपी युवक के परिवार वालो को मुक्त कराते हुए जल्द ही आरोपी की गिरफ्तारी की बात कही। फिलहाल इस पूरे मामले को लेकर पुलिस काफी सतर्क है फिर भी पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठना लाजमी है कियूकी यदि समय रहते पहले ही पुलिस बलात्कार मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लेती तो शायद आज ये दिन ही ना आता कि जब बलात्कार पीड़ित नाबालिक को दबंग जबरन अपहरण करके ले जाता।आज वो सलाखों के पीछे होता। को लेकर गाँव मे काफी चर्चा हो रही है। वही इस पूरे मामले में आरोपी युवक के बुजुर्ग माँ का कहना है कि रात्रि करीब 12 बजे गाँव वालों ने हमारे घरों में घुसकर हमे पकड़ ले गए और मारपीट कर बन्दी बना लिया यदि समय रहते ही पुलिस नही आ जाती तो गांव के कुछ लोग हम लोगो को मार ही डालते।