Home श्रावस्ती आधारकार्ड जमा करने की अन्तिम तिथि 31 मार्च, 2018-जिलाधिकारी

आधारकार्ड जमा करने की अन्तिम तिथि 31 मार्च, 2018-जिलाधिकारी

SHARE

श्रावस्ती ब्यूरो प्रदीप गुप्ता/जिलाधिकारी दीपक मीणा के निर्देशानुसार जिला पूर्ति अधिकारी क्यामुद्दीन अंसारी ने बताया है कि लाभार्थियों के परिवारों के आधार को उनके डाटा से लिंक कराया जाना है जिससे यदि परिवार का मुखिया किन्हीं कारणों से राशन लेने नहीं आता तो परिवार के किसी भी सदस्य को खाद्यान्न आसानी से प्राप्त हो सके।

उन्होने बताया कि शीघ्रातिशीघ्र अपने राशनकार्ड में जारी कुल यूनिट के सापेक्ष व्यक्तियों के आधार को लिंक कराने हेतु अपने उचित दर विक्रेता(कोटेदार), पूर्ति निरीक्षक या जिला पूर्ति कार्यालय में जाकर आधारकार्ड की छायाप्रति जमा कराना सुनिश्चित करें जिससे  मुखिया की स्थिति ठीक न होने पर उसके परिवार के किसी भी व्यक्ति को खाद्यान्न आसान तरीके से उपलब्ध कराया जा सकेगा। आधार कार्ड लिंक कराने की अन्तिम तिथि 31 मार्च, 2018 है। यदि कोई लाभार्थी अपने राशनकार्ड में जारी यूनिट के सापेक्ष आधार को लिंक नहीं करवाता है तो उसका पात्र ग्रहस्थी से नाम स्वतः कट जायेगा जिसका जिम्मेदार स्वंय लाभार्थी होगा। जिला पूर्ति अधिकारी ने सभी लाभार्थियों से यह अपेक्षा की जाती है कि जिनके आधार अभी तक नहीं बने हैं वो शीघ्र बनवाकर छायाप्रति जमा करायें और जिनके आधारकार्ड बने हैं वो सुगमता से उचित दर विक्रेता अथवा पूर्ति निरीक्षक के पास जमा करायें। आप सभी लाभार्थियों से यह अपेक्षा की जाती है कि ससमय आधारकार्ड की छायाप्रति जमा करायें ताकि भविष्य में आपको कोई असुविधा न हो। 

जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया है कि आधार आथेन्टिकेशन के माध्यम से पात्र व्यक्तियों तक इसका लाभ पहुंचाने में काफी पारदर्शिता आयी है। इससे बोगस राशनकार्ड अपात्र लाभार्थी स्वतः योजना से बाहर हो गए हैं। उक्त के अतिरिक्त समस्त लाभार्थियों को शासन द्वारा अनुमन्य मात्रा व मूल्य से भी अवगत कराते हुए बताया गया कि पात्र गृहस्थी योजना के अन्तर्गत प्रति यूनिट में 05 कि0ग्रा0 खाद्यान्न जिसमें गेहूं 03 कि0ग्रा0 तथा चावल 02 कि0ग्रा0 सम्मिलित है। गेहूं का मूल्य 02 रु0 प्रति कि0ग्रा0 तथा चावल का मूल्य 03 रु0 प्रति कि0ग्रा0 है। अत्योदय लाभार्थियों को 20 कि0ग्रा0 गेहूं तथा 15 कि0ग्रा0 चावल कुल 35 कि0ग्रा0 राशन शासन द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है। मिट्टी का तेल पात्रगृहस्थी परिवारों को 02 लीटर तथा अंत्योदय परिवारों को 03.500 लीटर शासन द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है।