Home Banda सबमर्सिबल पर सरकार क्यों नही लगा पा रही प्रतिबंध.,, क्या पानी पूरी...

सबमर्सिबल पर सरकार क्यों नही लगा पा रही प्रतिबंध.,, क्या पानी पूरी तरह खत्म होने का इन्तजार

सबमर्सिबल पर सरकार क्यों नही लगा पा रही प्रतिबंध

बाँदा रिपोर्ट के के गुप्ता :- जनपद मे घरेलु इस्तेमाल मे लोग अपने अपने घरो के बोरो मे सबमर्सिबल डालकर जिस तरीक़े जलदोहन कर रहे है। उससे आने वाले समय मे लोगो को भारी जलसंकट से जूझना पडेगा। जबकि आवश्यकता से अधिक पानी की बरबादी का कारण सबमर्सिबल है ।प्रायः आपको जिन घरो मे बोर है वहां पर जलदोहन हेतु इस मशीन का उपयोग किया जा रहा है वैसे भी इस समय दिन प्रतिदिन जलस्तर नीचे जा रहा है क्योंकि बालू माफिया नदियों की जलधारा को रोक करके बीच नदी से अवैध खनन करके जलस्तर को नीचे कर रहे है।

वही आम जनता भी यह जलदोहन की मशीन लगाकरके पताल तक का पानी निकालने मे कोई कसर नही उठा रहे।जहां एक ओर केन्द्र सरकार व राज्य सरकार वाटर रिचार्ज हेतु करोडो रुपये बरबाद कर रही है। वही पर समाज का तबका पानी को किस कदर बरबाद कर रहे है। इस ओर सरकार को गँभीरता से विचार करना चाहिये और ऐसी मशीनो पर प्रतिबंध लगाना चाहिए। आज बुन्देलखण्ड का बहुत बडा हिस्सा केवल पानी के लिए परेशान है ।

महिलाएं व पुरुष काफी दूर दूर से पीने के लिए पानी लाते है। और तो और नदियों के किनारे गड्ढा बनाकरके लोग उसी से पानी लेकर के आते है तथा तालाब व पोखरो से पानी पीने के लिए मजबूर है । वही पर कुछ लोग जलदोहन की मशीन लगाकरके पानी को बरबाद करने मे कोई कसर नही उठा रहे है। वैज्ञानिकों के मतनुसार अगर इसी तरीके से जलदोहन होता रहा तो भारत मे भी 2022 तक जमीन से पानी समाप्त हो जायेगा । बूँद बूँद पानी के लिये के लिए तरसना पडेगा। इसलिए पानी की कीमत को समझिये और जल सँरक्षण पर ध्यान दीजिए। इस काम के लिये समाज के हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है।