Home Fastival/Religion राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने मनाया हिन्दू साम्राज्य दिवस

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने मनाया हिन्दू साम्राज्य दिवस

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने मनाया हिन्दू साम्राज्य दिवस
घाटमपुर । राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ  के द्वारा मनाये जाने वाले प्रमुख छै उत्सवों मे “हिन्दू साम्राज्य दिवस” वर्ष का अन्तिम उत्सव है । ज्येष्ठ सुदी त्रयोदशी संवद १७३१ यानी सन १६७४ को हिन्दू वीर कुशल संघठन कर्ता छत्रपति शिवाजी का जन्म महाराष्ट्र के सुमेरी किली मे हुआ था । इनके पिता साहीजी घोसले माता जीजा बाई थी ।
पिता मुस्लिम शासक की सेना के सिपह सलार थे । एक बार जब इनके पिता उस मुस्लिम शासक के दरबार मे शिवाजी के ले गये तो सभी उस राजा को नमस्कार कर रहे थे परन्तु शिवाजी ने उनको नमस्कार नहीं किया जिस पर वहॉ उपस्थित राजा के सहयोगियों ने इसका बुरा माना और शिवाजी को अपने पिता से दूर रहने का आदेश दे दिया जिस पर मॉ जीजा बाई जो एक धार्मिक महिला थी । उन्हे लेकर बीजागढ चली गई वहॉ अपने पुत्र को रामायण गीता महाभारत जेसे धार्मिक ग्रन्थों को सुनाती थी वहीं शिवा जी को संत रामदास जी का मार्ग दर्शन मिला जो गॉवों मे अखाडा बनवाकर लोगों की शक्ति और बौधिक छमताओं के विकास का काम करते थे ।
वहीं से शिवाजी के बालमन मे इन विदेशी आक्रान्तओं के प्रति नफरत ऩे घर कर लिया इसके बाद शिवाजी ने गॉवों आदि मे छोटी छोटी सेना बनाकर छोटे राज्यों पर आक्रमण कर उनको जीता और अपनी सेना का विसतार किया गुरिल्ला युद्ध के जनक वीर शिवाजी ने अपने जीवन काल मे २७४ युद्ध किए और सभी मे जीत अर्जित की ।  उक्त उदबोधन जिला प्रचारक आनंद मोहन ने नगर के प्रमुख  नगर पालिका परिसर मे संघ के द्वारा आयोजित हिन्दू साम्राज्य दिवस मनाते हुए कही  ।  इस अवसर पर उपस्थित स्वयं सेवकों के अतरिक्त बलराम सिंह नगर कार्यवाह,   आनंद मोहन जिला प्रचारक, बृजनंदन , शिवाकांत त्रिवेदी , योगेश तथा अन्य समाज के बन्धु उपस्थित रहे।