Home Crime हत्यारोपी पति, सास व देवर को सात वर्ष का सश्रम कारावास

हत्यारोपी पति, सास व देवर को सात वर्ष का सश्रम कारावास

श्रावस्ती रिपोर्ट
श्रावस्ती। पांच वर्ष पूर्व सोनवा थाना क्षेत्र के नानकार गांव में दहेज के लिए हुई विवाहिता की हत्या के मामले में पति, सास व देवर को सात वर्ष सश्रम कारावास की सजा सुनाई गई है। इसके अलावा प्रति आरोपी साढ़े 12 हजार रुपये के अर्थदंड से भी दंडित किया गया है। सत्र परीक्षण के बाद अपर सत्र न्यायाधीश(फास्ट ट्रैक कोर्ट) शिव कुमार सिंह ने सजा सुनाई है। अभियोजन पक्ष के अनुसार थाना मल्हीपुर क्षेत्र के शिवगढ़ कला गांव की पुष्पा देवी का विवाह वर्ष 2007 में सोनवा थाना क्षेत्र के नानकार गांव निवासी कुलेराज विश्वकर्मा के साथ हुआ था। विवाह के बाद से ही ससुराल के लोग दहेज के लिए उसे प्रताड़ित करते थे। दहेज में मोटरसाइकिल और 40 हजार रुपये की मांग की जा रही थी। इसके लिए एक बार पंचायत भी हुई थी। 24 मई 2013 को पुष्पा को लेकर पति कुलेराज, देवर मनीराम व सास बंदरी देवी जिगनिया गांव स्थित रिश्तेदारी में वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। यहीं रात में पति, सास व देवर ने उसे खेत में ले जाकर उसकी हत्या कर दी। शव मसूर के डंठल में छिपा दिया गया। मृतका के भाई विजय कुमार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने विवेचना शुरू की। आरोप पत्र न्यायालय पर प्रस्तुत किया गया। अपर सत्र न्यायाधीश शिव कुमार सिंह ने सुनवाई के बाद आरोपियों को दोषी मानते हुए सात वर्ष सश्रम कारावास की सजा सुनाई गई। अभियोजन पक्ष की पैरवी एडीजीसी क्रिमिनल सतीश कुमार मौर्य ने की।

IMG_20181125_113424.jpg