Home Social/Othar प्रभारी जिलाधिकारी ने धान क्रय केन्द्रों का किया औचक निरीक्षण

प्रभारी जिलाधिकारी ने धान क्रय केन्द्रों का किया औचक निरीक्षण

श्रावस्ती रिपोर्ट
श्रावस्ती। धान खरीद की जमीनी हकीकत जानने के उद्देश्य से प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय ने अपर जिलाधिकारी(वि0/रा0) योगानन्द पाण्डेय के साथ धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण किया। सर्व प्रथम प्रभारी जिलाधिकारी ने विकासखण्ड गिलौला के अन्तर्गत साधन सहाकारी समिति लि0 धसवा का निरीक्षण किया जिसमें देखा गया कि अभी तक केवल 18 क्विटंल धान खरीदा गया है जो लक्ष्य के सापेक्ष बहुत ही कम थी केन्द्र पर देखा गया कि म्वाइश्चर मीटर नही मिला, दो काटां की जगह केवल एक ही काॅटा था तथा पंखा नही था, जिस पर गहरी नाराजगी जताते हुए वंहा पर उपस्थित केन्द्र प्रभारी अजय कुमार को निर्देश दिया कि अधिक से अधिक धान खरीदना सुनिश्चित करें। इसके उपरान्त विकास खण्ड गिलौला के अन्तर्गत मार्केटिंग द्वारा संचालित क्रय केन्द्र गुटहरू का निरीक्षण किया गया जिसमें देखा गया कि अभी तक केवल 350 क्विटंल धान खरीदा गया जिस पर वंही पर उपस्थित केन्द्र प्रभारी आकाश सितारे को निर्देश दिया कि दिये लक्ष्य को जल्द से जल्द पूरा करें, क्रय पंजिका का अवलोकन किया तथा जिन किसानों ने धान बेचां है के दूरभाष पर वार्ता की जिस पर किसान द्वारा धान बेचें जाने की पुष्टि हुई। तदोपरान्त प्रभारी जिलाधिकारी ने विकास खण्ड गिलौला के अन्तर्गत पी0सी0एफ0 द्वारा संचालित क्रय केन्द्र परेवपुर का निरीक्षण किया गया जिसमें अभी तक बहुत की कम धान खरीदा गया है जो भी धान खरीदा गया है उसमें पंखे का भी प्रयोग नही किया जा रहा है। म्वाइश्चर मीटर उपलब्ध है परन्तु केन्द्र प्रभारी द्वारा प्रयोग नही किया जा रहा है। वंही पर उपस्थित केन्द्र प्रभारी विजय कुमार तिवारी को कड़ी फटकार लगाते हुए निर्देश दिया कि मीटर का प्रयोग करना सुनिश्चित करें तथा ए0आर0-कोआपरेटिव को निर्देश दिया कि 02 दिवस के अन्दर जनपद के सभी केन्द्रों पर जाकर निरीक्षण करें तथा निरीक्षण रिपोर्ट प्रस्तुत करें।इसके उपरान्त प्रभारी जिलाधिकारी ने विकास खण्ड इकौना के अन्तर्गत खाद्य एवं रशद विभाग द्वारा संचालित क्रय केन्द्र मोहनीपुर का निरीक्षण किया गया वंहा पर देखा गया कि अभी तक 140 कुन्तल की खरीद की जा चुकी है, काॅटा उपलब्ध है। प्रभारी जिलाधिकारी ने केन्द्र प्रभारी महेन्द्र प्रताप सरोज को अपने समक्ष म्वाइश्चर मीटर चलाकर दिखाने को कहा। क्रय पंजिका में जगंरावलगढ़ी निवासी सूर्यप्रभा से दूरभाष पर धान बेचने की हकीकत जानी।

IMG_20181123_121728.jpg