Home Social/Othar शिक्षा के उजियारे से होगा जिले का विकास- सचिव भारत सरकार

शिक्षा के उजियारे से होगा जिले का विकास- सचिव भारत सरकार

श्रावस्ती रिपोर्ट
श्रावस्ती। जन-जन के विकास के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है इसके लिए तमाम जनकल्याणकारी योजनाओं का संचालन विभिन्न विभागों के माध्यम से किया जाता है। इसलिए सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों का दायित्व बनता है कि वे अपने-अपने विभागों में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं/विकास कार्यक्रमों को धरातल पर उतारें, और हर पात्र व्यक्ति को जरूर लाभान्वित करें तथा यह भी ध्यान रखें कि कोई भी गरीब, असहाय, बेसहारा व्यक्ति सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से वचिंत न रहने पावे। उक्त विचार संयुक्त सचिव भारत सरकार नीतीश्वर कुमार ने कलेक्ट्रेट सभागार में तमाम विभागों के जिलास्तरीय अधिकारियों के समीक्षा करने के दौरान व्यक्त किया है। उन्होने जोर देते हुए कहा कि अशिक्षा विकास में बाधक रही है इसलिए शत-प्रतिशत लोगों को शिक्षित किये बिना सम्पूर्ण विकास की परिकल्पना नही की जा सकती। जिले में साक्षरता दर पूरे भारत में सबसे कम होने पर चिन्ता व्यक्त की तथा इसके लिए टीम भावना के साथ काम करकेे साक्षरता दर को बढ़ाने के लिए लोगों से विशेष प्रयास करने की अपील की है। उन्होने कहा कि सम्पूर्ण विकास में शिक्षा और स्वास्थ्य की बहुत ही महती भूमिका है इसलिए इन दोनो बिन्दुओं पर विशेष जोर दिया जाना चाहिए। भारत सरकार के संयुक्त सचिव ने कहा कि प्राथमिक से लेकर जूनियर से लेकर इण्टरमीडिएट एवं इण्टर मीडिएट से लेकर उच्च शिक्षा में दाखिले तक छात्र-छात्राओं की निगरानी के लिए भी कार्य योजना बनाई जाए ताकि वे शिक्षा से वंचित न रहने पावे। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान यह ज्ञात हुआ कि जागरूकता के अभाव में गर्भवती महिलाएं एवं नवजात शिशुओं का समय से टीकाकरण न होने के कारण जिले में मातृ और शिशु मृत्युदर अधिक है जो बहुत ही गम्भीर विषय है इसके लिए भी स्वास्थ्य विभाग, बाल विकास पुष्टाहार एवं बेशिक शिक्षा को अब विशेष सतर्कता बरतनी होगी और जिले की हर गर्भवती महिलाओं का शत-प्रतिशत टीकाकरण, उनके स्वास्थ्य की देखभाल एवं नवजात शिशु से लेकर पाॅच वर्ष तक के बच्चों का समय से टीकाकरण कराने के साथ हर गर्भवती महिलाओं एवं उनके नवजात बच्चों के टीकाकरण का लेखा जोखा ढंग से रखना होगा ताकि कोई भी गर्भवती महिला तथा नवजात शिशु टीकाकरण से वंचित न रह जाय। संचार माध्यम की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि बी0एस0एन0एल0 नेटवर्क का जिले में ढंग से संचालन न हो पाने के कारण बहुत से तकनीकी कार्यों को समय से सम्पन्न होने में बाधा आती है। इस प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए वंही पर उपस्थित बी0एस0एन0एल0 के अधिकारी को नेटवर्किंग व्यवस्था ढंग से करने का निर्देश दिया है ताकि शासकीय कार्यों/उपभोक्ताओं को बाधा न उत्पन्न हो। सचिव ने बैठक में उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना, उजाला योजना, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजनाओं के बारें में समीक्षा की तथा योजनाओं के लक्ष्य की पूर्ति के बारे में सम्बन्धित अधिकारियों से वार्ता कर जानकारी ली। समीक्षा बैठक का संचालन जिलाधिकारी दीपक मीणा ने किया। समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय, उप जिलाधिकारी भिनगा चन्द्र मोहन गर्ग, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट शिपू गिरि, अपर जिलाधिकारी योगानन्द पाण्डेय, जिला विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 वी0के0 सिंह, परियोजना निदेशक सहित तमाम विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

IMG_20181204_195108.jpg