Home Banda बाँदा के एक गांव से लापता है पूरा परिवार गांव मे पुलिस...

बाँदा के एक गांव से लापता है पूरा परिवार गांव मे पुलिस के रवैये को लेकर के लोगों मे आक्रोश

बाँदा के एक गांव से लापता है पूरा परिवार गांव मे पुलिस के

बाँदा ब्योरो रिपोर्ट के के गुप्ता :- बाँदा थाना फतेहगँज से मात्र 500 मीटर की दूरी पर सि्थति ग्राम बरछा डँडिया से एक ब्राह्मण परिवार दिनांक 24.5.2018 से लापता है । परिजनों ने काफी तलाश की तथा दिनांक 26.5.2018 को थाना फतेहगँज मे गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाने थाना फतेहगँज गये ।परन्तु थानाध्यक्ष द्वारा रिपोर्ट दर्ज नही की गयी । तो फिर परिजनो ने पुलिस अधीक्षक के यहां गुहार लगाई तब कही दिनांक 13 जून को थाना फतेहगँज मे रिपोर्ट दर्ज की गयी।

हम आपको यहां बता देना आवश्यक समझते है कि ग्राम बरछा डँडिया थाना फतेहगँज से मात्र आधा किलोमीटर दूर फूलचंद्र का परिवार रहता था इनकी उम्र 70 वर्ष थी।। इनकी पत्नी का नाम सुशीला था इनकी उम्र 65 वर्ष थीजिनका पेशा कृषि कार्य करके परिवार का भरणपोषण करना था इनके चार बेटे व तीन बेटियां थी। इनके बडे पुत्र का नाम भूपत उपाध्याय उम्र 53 वर्ष एवँ दूसरे भाई देवनारायण 47 वर्ष जो कि परिवार सहित सतना म.प्र. मे निवास करता है । तथा चौथे नँ. जगप्रसाद 37 वर्ष गाँव मे रहते है।

एवँ इनकी तीन पुत्रियों राजरानी .गुलाब रानी. सोना तीनो विवाहित है। अब हम बात करते है तीसरे नँ. के पुत्र बाबूराम उपाध्याय उम्र 43 वर्ष व इनकी पत्नी अहिल्या40 वर्ष तथा इनके दो बच्चे सौरभ 14 वर्ष पुत्री श्रद्धा 16 वर्ष दिनांक 24.5.18 से लापता है ।जिस कारण से पूरे परिवार मे मातम जैसा महौल बना हुआ है ।तथा गांव के लोग व परिजन यह आरोप लगा रहे है कि थानाध्यक्ष फतेहगँज इस प्रकरण मे रुचि नही ली अगर समय रहते पुलिस ने इस प्रकरण को गँभीरता से सँज्ञान मे लिया होता तो शायद उनका बेटा व भाई का परिवार मिल गया होता। ये भी बहुत बडी विडंबना रही कि इस पूरे परिवार को सान्त्वना व आश्वासन देने के लिए न तो जिले से कोई आला अधिकारी गये और न ही सत्ता पक्ष से कोई विधायक व साँसद भी नही गये। भूपत उपाध्याय व ग्राम प्रधान ने बताया कि समय रहते थानाध्यक्ष ने रुचि दिखाई होती तो अभी तक पता लग होता ।