Home Fastival/Religion बुढ़वा मंगल की तैयारियों को दिया जा रहा अंतिम रूप

बुढ़वा मंगल की तैयारियों को दिया जा रहा अंतिम रूप

25 सितंबर को बुढ़वा मंगल के लिए क्षेत्र के प्रमुख मंदिरों में तैयारियों को अंतिम रुप दिया जा रहा है ।  पुलिस व प्रशासन सुरक्षा व्यवस्थाओं का खाका खींचकर उसकी रिहर्सल भी कर रहे हैं ।

मूसानगर स्थित बालाजी महाराज , कुढ़नी पतारा और बिरहर गांव के प्राचीन मंदिरों में विशेष व्यवस्था की गई मंदिरों के गर्भ गृह में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं ।  चौकी के कस्बा कुंडनी स्थित हनुमान मंदिर के महंत हनुमान मुनि ने बताया कि बुढ़वा मंगल के दिन भीड़ को ध्यान में रखते हुए मंदिर परिसर पर कुछ प्रतिबंध कड़ाई से लागू रहेंगे ।

इसमें पैसा में हवन करने अगरबत्ती और कपूर जलाने पर पूर्ण रुप से प्रतिबंध रहेगा ।  परिसर में कथा वाचकों की गद्दियां भी नहीं लगेगी । वही रिंद नदी के तट पर स्थित बिरहर गांव की प्राचीन भद्रकाली देवी मंदिर परिसर में स्थापित हनुमान जी की विशाल प्रतिमा के पूजन को भी भक्तों की भीड़ को देखते हुए परिसर में लाइन से प्रवेश देने की व्यवस्था की गई है ।

कस्बा पतारा स्थित रेलवे स्टेशन के पास हनुमान मंदिर में बुढ़वा मंगल के दिन मेले और रात में आयोजित जवाबी कीर्तन और सांस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजन पर पुलिस की कड़ी चौकसी बनी रहेगी पैसों में पुलिस के सिपाही हो होम गार्डों के साथ ही महिला पुलिस पीएसी भी लगाई जाएगी कुढ़नी कस्बे में मंदिर परिसर से 1 किलोमीटर पहले ही वाहनों का प्रवेश लोग दिया जाएगा वही घाटमपुर स्थित कुष्मांडा देवी परिसर में हनुमान मंदिर  मैं भी विशेष  साज सज्जा और सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं ।