Home Sitapur पुरानी पेंशन बहाली की महा हड़ताल लगातार जारी

पुरानी पेंशन बहाली की महा हड़ताल लगातार जारी

लहरपुर (सीतापुर)रिपोर्ट एहतिशाम बेग-स्थानीय विकास खण्ड कार्यालय में कर्मचारी ,शिक्षक,अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच के अन्तर्गत महाहड़ताल के दूसरे दिन शिक्षकों सहित विभिन्न कर्मचारी संगठनों ने प्रदर्शन कर पुरानी पेंशन बहाली की सरकार से मांग की।आज के कार्यक्रम की अध्यक्षता संयुक्त रूप से वरिष्ठ शिक्षिका अल्पना वर्मा एवं मोमिना खातून ने किया। तथा कार्यक्रम का संचालन प्राथमिक शिक्षक संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष आलोक वर्मा आज़ाद ने किया ।

प्राथमिक शिक्षक संघ लहरपुर के पेंशन बहाली मंच के अध्यक्ष ज्ञान प्रकाश सिंह ने आज अन्य कुछ संगठनों के प्रतिभागी सदस्यों का स्वागत किया तथा पुरानी पेंशन बहाली तक शत-प्रतिशत हड़ताल सफल होने का आवाहन किया।इस अवसर पर उपस्थित शिक्षको और कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार नई पेंशन के माध्यम से कर्मचारियों का शोषण कर रही है।

यह किसी भी प्रकार से शिक्षकों व कर्मचारियों को मान्य नहीं है। कर्मचारी,शिक्षक, अधिकारी मंच के संयोजक कौशलेंद्र वर्मा ने अपने संबोधन में शिक्षकों और कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक पेंशन बहाल नहीं होगी तब तक हम लोग हटने वाले नहीं हैं। रामचंद मिश्रा गुट के उच्च प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला उपाध्यक्ष दिनेश कुमार वर्मा ने अपने पूर्व अनुभवों से पेंशन विहीनों की हौसला अफजाई की। उच्च प्राथमिक शिक्षक संघ लहरपुर के अध्यक्ष प्रमोद कुमार वर्मा ने प्रेरणादाई गीत के माध्यम से पेंशन बहाल होने का संकल्प दिलाया। कपिल कुमार लघु सिंचाई विभाग ने कहा कि सांसद, विधायक आदि अपनी पेंशन बढ़ाते जा रहे हैं जबकि कर्मचारियों के साथ अन्याय हो रहा है।

ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के ब्लॉक अध्यक्ष सीताराम ने कहा कि अंजाम चाहे जो भी हो पुरानी पेंशन लेकर रहेंगे। शिक्षक महफूज अली ने अपने भाषण में आह्वाहन किया कि शिक्षक,कर्मचारी अपना हक़ पाने के लिए हर तरह की कुर्बानी देने के लिए तैयार रहें। इस अवसर पर प्राथमिक व उच्च प्राथमिक शिक्षक संघ के सदस्यों व शिक्षकों, ग्राम पंचायत अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी,सफाई कर्मचारी समन्वय संघ,लघु सिंचाई विभाग के पदाधिकारियों ने अपने विचार प्रस्तुत किए। 06 फरवरी से 12 फरवरी तक प्रस्तावित महाहड़ताल में सरकार के दोहरे रवैये के खिलाफ तथा पुरानी पेंशन की बहाली हेतु जोरदार नारे बाजी की गई। आलोक वर्मा आज़ाद वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्राथमिक शिक्षक संघ ने कहा कि सरकार आंदोलन करने वाले कर्मचारियों को धमकाने का कार्य कर रही है। जबकि संविधान में अपने हक के लिए आवाज बुलंद करने का अधिकार दिया है।

वक्तागणो में अनवर अली वरिष्ठ सह समन्वयक,सेवकराम मंत्री प्रा.शि.संघ,मोहम्मद इब्राहिम सिद्दीकी उ. प्र. प्रा. मृतक आश्रित शिक्षणेत्तर कर्मचारी संघ प्रदेश उपाध्यक्ष,प्रमोद शास्त्री कोषाध्यक्ष प्रा. शि.संघ,अर्पित त्रिवेदी,नूरसबा खातून,नसरुल्ला खां,उमाशंकर अवस्थी ,संदीप कुमार,पिंकी दीक्षित,विदुषी तिवारी,रुद्र प्रताप सिंह,आदित्य राठौड़,राष्ट्रीय कुमार,आदि शिक्षकों व कर्मचारियों ने संबोधित किया।विकास खण्ड के समस्त प्राथमिक,उच्च प्राथमिक शिक्षक व शिक्षिकाएं,सफाई कर्मी ,पंचायत सचिव,लघु सिंचाई विभाग व अन्य संघ हड़ताल में शामिल रहे।