Home Politics सीतापुर मुस्कान गेस्ट हाऊस में नकुल दुबे के विरोध में चली कुर्सियां

सीतापुर मुस्कान गेस्ट हाऊस में नकुल दुबे के विरोध में चली कुर्सियां

सीतापुर रिपोर्ट एहतिशाम बेग:- लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है वैसे वैसे सरगर्मियां तेज हो गई है वहीं प्रशासन भी पूर्ण रूप से चौकन्ना है वैसे देखा जाए तो इस समय लोकसभा के चुनाव में दल बदलने का सिलसिला लगातार जारी है कोई कांग्रेस छोड़ रहा है तो कोई बीजेपी ऐसे हालातों में चुनाव में किसका पलड़ा भारी है यह कह पाना आसान नहीं होगा सीतापुर लोकसभा की बात की जाए तो एक बार भारतीय जनता पार्टी ने 2014 के सांसद राजेश वर्मा पर फिर भरोसा जताया है

दूसरी तरफ बहुजन समाजवादी पार्टी से सांसद रही कैसर जहां जो अभी हाल में बहुजन समाजवादी पार्टी की कांग्रेस का दामन थामा है और सीतापुर लोकसभा से कांग्रेस की प्रत्याशी बनाई गई तो गठबंधन उम्मीदवार नकुल दुबे के टिकट पर आशंका जताई जा रही है हलाकि सीतापुर लोकसभा में नकुल दुबे को टिकट को लेकर के गठबंधन के कार्यकर्ताओं में काफी रोष देखने को मिल रहा है जैसा कि अभी हाल ही में विरोध किया गया है तो ऐसे में क्या गठबंधन के नकुल दुबे गठबंधन की नैया को पार लगा पाएंगे यह कह पाना मुश्किल होगा

लेकिन फिर भी यह कहा जा सकता है कि लोकसभा सीतापुर से भारतीय जनता पार्टी से सांसद राजेश वर्मा व पूर्व सांसद बहुजन समाजवादी पार्टी कि कैसर जहा का टिकट तय हो चुका है तो वहीं गठबंधन के प्रत्याशी को मैदान में नहीं उतारा जा सका है कहीं रामपाल यादव को लेकर के आशंकाएं जताई जा रही है तो कहीं नकुल दुबे को यहां तक कि नकुल दूबे सीतापुर लोकसभा के प्रत्याशी बनाए जाने पर क्षेत्रीय लोगों ने विरोध भी जताया है

लेकिन हाल ही में शामिल हुई कांग्रेस में कैसर जहां से रोचक मुकाबले की उम्मीद की जा रही है गठबंधन के प्रत्याशी उतारे जाने पर मुकाबले को त्रिकोणी कहा जा सकता है फिलहाल सभी नुक्कड़ चौराहे वह चाय की दुकानों पर लोकसभा चुनाव को लेकर के गुनगुनी देखने को मिल रही है